Homeपटनानीतीश कुमार के 'सत्य' बयान का प्रशांत किशोर ने इस अंदाज में...

नीतीश कुमार के ‘सत्य’ बयान का प्रशांत किशोर ने इस अंदाज में दिया जवाब, जानें क्या कहा

- Advertisement -

पटना. बिहार की सियासत में चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर उर्फ पीके की एंट्री के साथ ही सियासी गहमगहमी तेज हो गई है. इसके साथ ही राजनीतिक बयानबाजियों का सिलसिला भी लगातार जारी है. पहले राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने पीके पर तंज कसते हुए कहा कि पूरे देश में घूम लिए और अब बिहार आए हैं. इसी प्रकार भाजपा और जदयू के नेताओं ने भी कई बार पीके को निशाने पर लिया. खास तौर पर तब जब प्रशांत किशोर ने कहा कि लालू-नीतीश के 30 वर्षों के शासन में रहने के बाद भी बिहार कई मानकों में निचले पायदान पर है. इस पर स्वयं सीएम नीतीश कुमार ने भी प्रतिक्रिया देते हुए कहा था कि कौन क्या बोलता है इसका महत्व नहीं, महत्व सत्य का है. अब इस बयान का पीके ने भी सीएम नीतीश कुमार के बयान पर तंज भरे अंदाज में जवाब दिया है.

प्रशांत किशोर ने अपने ताजा ट्वीट में लिखा, ”नीतीश जी ने ठीक कहा – महत्व सत्य का है, और सत्य यह है कि 30 साल के लालू-नीतीश के राज के बाद भी बिहार आज देश का सबसे गरीब और पिछड़ा राज्य है. बिहार को बदलने के लिए एक नयी सोंच और प्रयास की ज़रूरत हैं और यह सिर्फ वहां के लोगों के सामूहिक प्रयास से ही सम्भव है.”

ट्रेन्डिंग खबर :   तेज प्रताप यादव की जनशक्ति यात्रा को मिला बॉलीवुड का साथ, वीडियो जारी कर की यह अपील...

बता दें कि प्रशांत किशोर ने एक्टिव पॉलिटिक्स में उतरने के साथ ही राजनीतिक दल का गठन करने से पहले प्रदेश में जन सुराज अभियान चलाने का ऐलान किया है. साथ ही उन्‍होंने विकास और प्रदेश में काम होने के मुद्दे पर नीतीश सरकार को भी आड़े हाथ लिया था. प्रशांत किशोर ने कहा था कि बिहार में पिछले 15 वर्षों में कोई काम नहीं हुआ.

इस बाबत जब मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से सवाल किया गया तो उन्‍होंने चौंकाने वाला जवाब दिया. सीएम नीतीश ने कहा कि कौन क्‍या बोलता है, इसका कोई महत्‍व नहीं है. मुख्‍यमंत्री ने कहा कि महत्‍व सत्‍य का है कि बिहार में कितना काम हुआ है.

ट्रेन्डिंग खबर :   भोजपुरी गानों में जाति का जिक्र किया तो ख़ैर नहीं, नीतीश सरकार के मंत्री ने दी चेतावनी

मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार शुक्रवार को प्रदेश की राजधानी पटना में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे. इस दौरान उनसे प्रशांत किशोर के बयान पर प्रतिक्रिया मांगी गई थी. सीएम नीतीश ने कहा, ”कौन क्‍या बोलता है, इसका कोई महत्‍व नहीं है. महत्‍व सत्‍य का है कि कितना काम हुआ है. मैं इन सब बातों का जवाब नहीं देता. आपलोग ही जवाब दे दीजिए कि क्‍या काम हुआ है.”

बता दें कि प्रशांत किशोर ने गुरुवार को कहा था कि लालू समर्थक सामाजिक न्‍याय की बात करते हैं और नीतीश समर्थक न्‍याय के साथ विकास का दावा करते हैं. उन्‍होंने आगे कहा था कि हकीकत यह है कि पिछले 30 वर्षों में बिहार पिछड़ा राज्‍य ही बना रहा.

Tags: Bihar politics, CM Nitish Kumar, Lalu Prasad Yadav, Prashant Kishor

© न्यूज 18

- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here