Homeपटनापुतले के रूप में सजा कर निकाली मां की शवयात्रा, फिर किया...

पुतले के रूप में सजा कर निकाली मां की शवयात्रा, फिर किया अंतिम संस्कार, जानें क्या है पूरा मामला

- Advertisement -

किशनगंज. मामला किशनगंज से सटे पश्चिम बंगाल के सिलीगुड़ी के रंगापानी इलाके का है. यहां सोमवार को एक अजीब घटना देखने को मिली. इसको देखकर हर कोई आश्चर्यचकित है. दरअसल, यहां एक शख्स ने पुतले के शक्ल में सजा कर अपनी मां की शव यात्रा निकाली. बाद में उसी पुतले का अंतिम संस्कार भी किया गया. घटना के बारे में बताया जा रहा है कि यहां पर एक परिवार ने 15 साल पहले लापता अपनी मां का हिंदू रीति रिवाज से अंतिम संस्कार किया. ऐसी घटना बहुत कम देखने को मिलती है इसलिए लोग अचंभित हैं.

ट्रेन्डिंग खबर :   साइकिल सवार ने लापरवाही से लिया टर्न तो बचाने में बाइक सवार को गंवानी पड़ी जान! देखिये वीडियो

गांव वालों ने और परिवार के लोगों ने बताया कि आज से 15 साल पहले सावित्री चौधरी घर से निकली थी और उसके बाद फिर वह घर नहीं लौटी. 15 सालों से सावित्री चौधरी लापता हैं. गांव वालों का ऐसा मानना है कि 12 साल से अधिक अगर कोई व्यक्ति लापता रहता है तो उसे मृत मानकर उसका अंतिम संस्कार किया जा सकता है.

यही वजह है कि सोमवार को गांव वालों की सलाह पर लापता सावित्री चौधरी के बेटों ने अपने मां के रूप में एक पुतले को बहुत ही सुंदर ढंग से सजा धजा कर अंतिम यात्रा निकाली और 15 साल पहले लापता हुई अपनी माता का सम्पूर्ण विधि विधान से अंतिम संस्कार किया.

ट्रेन्डिंग खबर :   विवाह का मंडप सज चुका था, शहनाइयां बज रही थीं, अचानक दुल्‍हन ने शादी से किया इनकार; बाराती संग बैरंग लौटा दूल्‍हा

अंतिम संस्कार में गांव के लोगों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया. ऐसी घटनाएं बहुत कम देखने को मिलती हैं. आज के शिक्षित समाज में इस तरह की घटनाएं कई सवाल पैदा करता है, लेकिन धर्म और आस्था के आगे किसी का नहीं चलता.

Tags: Bihar News

न्यूज 18

- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here