Homeपटनामोतिहारी में पूर्व मुखिया के बेटे को गोलियों से भूना, पिता और...

मोतिहारी में पूर्व मुखिया के बेटे को गोलियों से भूना, पिता और पुत्र की भी हुई थी हत्या

- Advertisement -

मोतिहारी. बिहार के पूर्वी चम्पारण जिले में अपराध का ग्राफ तेजी से बढ रहा है. अपराधियों ने दिनदहाड़े एक युवक की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी. हत्या की ये घटना मोतिहारी नगर के अतिव्यस्त मार्ग गायत्री मंदिर के पीछे गायत्री नगर मुहल्ला जाने वाली सड़क के पहले छठ घाट के समीप हुई है. मोटरसाईकिल से जा रहे युवक को अपराधियों ने गोलियों से भूना और फिर आराम निकल गये. इस घटना के बाद आक्रोशित लोगों ने मोतिहारी सदर अस्पताल के सामने आगजनी कर सड़क को जाम कर दिया और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

मृतक की पहचान कोटवा थाना के बाबू टोला के पूर्व मुखिया नरेन्द्र सिंह के पुत्र कुणाल के तौर पर की गई है. पूर्व मुखिया का परिवार मोतिहारी के अगरवा मुहल्ला में रहता है जहां उनके बडे पुत्र कुणाल सिंह ठेकेदारी किया करते हैं. मोतिहारी घर से मीना बाजार जाने के क्रम में कुणाल सिंह की हत्या गोलियों से भून कर कर दी गई. इसके पूर्व 16 अप्रैल 2005 को कोटवा बाजार से घर बाबू टोला जाने के क्रम में तत्कालीन मुखिया नरेन्द्र सिंह और उनके सबसे छोटे पुत्र गुंजन सिंह की हत्या अपराधियों ने कर दी थी.

ट्रेन्डिंग खबर :   एस डब्लू ओ/एमपीए संघ की बैठक में उठी सेवा स्थायीकरण की मांग

बताया जाता है कि कोटवा पंचायत में वर्चस्व की लड़ाई को लेकर तत्कालीन मुखिया नरेन्द्र सिंह की हत्या कर दी गयी थी, जिसके बाद से उनका परिवार मोतिहारी के अगरवा मुहल्ला में रहता था. बुधवार को हुए कुणाल की हत्या के पीछे के कारणों को स्पष्ट जानकारी नहीं हो सकी है. हत्या के तीन घन्टे बाद भी पुलिस के नहीं पहुंचने का आरोप लगाते हुए स्थानीय लोगों ने सदर अस्पताल के सामने सड़क को आगजनी कर जाम कर दिया था.

सामाजिक कार्यकर्ता रविरंजन उर्फ नेता ने बताया कि कुणाल की शादी दो साल पहले ही हुई थी. वो पेशे से ठेकेदारी किया करता था. उन्होंने बताया कि घटना के कारणों की जानकारी नहीं हो सकी है. मृतक कुणाल सिंह के चाचा राजेश सिंह ने बताया कि कुणाल की किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी. हत्या क्यों हुई है
इसकी जानकारी नहीं है. इस मामले में सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरुण कुमार गुप्ता ने कहा कि हत्या के कारणों की जानकारी नहीं मिल सकी है लेकिन आपसी विवाद ही हत्या का कारण है. उन्होंने कहा कि टेक्निकल टीम अपराधियों की पहचान और गिरफ्तारी के प्रयास में जुटी है और इस केस का शीघ्र ही उद्भेदन किया जायेगा.

ट्रेन्डिंग खबर :   मरीज को अस्पताल लाए थे इलाज कराने, लेकिन नर्स से उलझे परिजन और ले भागे ऑक्सीजन सिलेंडर

Tags: Crime In Bihar, Motihari news

न्यूज 18

- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here