Homeपटना10 मई को शाम 7 बजे सील हो जाएगी नेपाल सीमा, जानें...

10 मई को शाम 7 बजे सील हो जाएगी नेपाल सीमा, जानें फिर कब से शुरू हो सकेगी आवाजाही

- Advertisement -

मुन्‍ना राज

बगहा (पश्चिम चंपारण). भारत-नेपाल सीमा को 72 घंटों के लिए सील किया जाएगा. पड़ोसी देश में 13 मई को पंचायत चुनाव होना है, जिसे देखते हुए दोनों पक्षों के अधिकारियों ने यह फैसला किया है. एंबुलेंस सेवा और शादी-विवाह के कार्यक्रम को प्रतिबंध की सूची से बाहर रखा गया है. नेपाल बॉर्डर को सील करने को लेकर भारत और नेपाल के अधिकारियों के बीच बैठक हुई, जिसमें इसपर सहमति बनी है. बता दें कि भारतीय क्षेत्र में बड़ी तादाद में लोग रोजाना नेपाल जाते हैं और नेपाल से लोग भारत के सीमावर्ती इलाकों (बिहार और पूर्वी उत्‍तर प्रदेश) में आते हैं. ऐसे में 72 घंटों तक सीमा सील होने से आम जिंदगी प्रभावित हो सकती है.

जानकारी के अनुसार, नेपाल में 13 मई को होने वाले स्थानीय पंचायत चुनाव को लेकर दोनों पक्षों के अधिकारियों के बीच नवलपरासी जिला के सुनवल में बैठक हुई. बैठक में पश्चिम चंपारण के जिलाधिकारी कुंदन कुमार, बगहा के एसपी किरण कुमार जाधव के अलावा अन्य अधिकारी मौजूद थे. नवलपरासी जिला के जिलाधिकारी श्रवण कुमार पोखरेल ने बताया की बैठक में भारत-नेपाल सीमा को चुनाव से 72 घंटा पहले सील करने का निर्णय लिया गया है. स्थानीय पंचायत चुनाव 13 मई को है, इसलिए चुनाव से पूर्व 10 मई की शाम 7 बजे से लेकर 13 मई की शाम 7 बजे तक भारत से लगती नेपाल की सीमा सील रहेगी.

ट्रेन्डिंग खबर :   शराब पीने के आरोप में पकड़ी गई तिकड़ी, एक बैंक मैनेजर, एक कोचिंग संचालक और एक रेलवे कर्मचारी

शादी समारोह में ज़हरीली शराब पीने से युवक की आंखों की गई रोशनी, मचा हड़कंप 

एंबुलेंस सेवा और वैवाहिक कार्यक्रमों को छूट
चुनाव के 72 घंटा पूर्व सीमा सील होने के बावजूद वैवाहिक कार्यक्रम तथा एंबुलेंस सेवा के लिए छूट दी गई है. जिलाधिकारी ने बताया कि नेपाल में होने वाले स्थानीय चुनाव को स्वच्छ, निष्पक्ष, भयरहित तथा शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने के लिए सीमा क्षेत्र में भारतीय सुरक्षा अधिकारियों का भी सहयोग आवश्यक है. निर्वाचन के समय सीमा क्षेत्र से अवैध हथियार की आपूर्ति की होने की आंशका को देखते हुए सीमा क्षेत्र में गश्ती बढ़ा दी जाएगी. इसी तरह सीमा क्षेत्र से प्रतिबंधित ड्रग्स की तस्करी रोकने ,मानव व्यापार तथा अवैध तस्करी के विषय को लेकर बैठक हुई. बैठक में एसडीएम दीपक कुमार मिश्र भी मौजूद थे.

ट्रेन्डिंग खबर :   शराब माफियाओं की अवैध संपत्ति जब्त करेगी नीतीश सरकार, ED को भेजा प्रस्ताव

शांतिपूर्ण चुनाव की बनी रणनीति
शांतिपूर्ण तरीके से पंचायत चुनाव सम्पन्न कराने को लेकर दोनों देशों के अधिकारियों एवं सुरक्षा बलों के बीच रणनीति बनाई गई. चुनाव के दौरान सीमा पर शराब समेत अन्य नशीले पदार्थों की तस्करी पर रोक लगाने, आपराधिक तत्वों की गतिविधियों की जानकारी साझा करने समेत कई अहम बिंदुओं पर चर्चा की गई. अधिकारियों ने कहा कि कई आपराधिक तत्व भारतीय क्षेत्र में अपराध की घटनाओं को अंजाम देकर सीमा पार कर नेपाल चले जाते हैं. अपराधियों की धड़पकड़ के लिए दोनों देश के अधिकारी आपस में सूचनाओं का आदान-प्रदान करते रहेंगे.

Tags: Bihar News, India-Nepal Border

न्यूज 18

- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here