HomeपटनाOMG! 70 साल के बुजुर्ग की निकली बारात, 8 बेटा-बेटी समेत पूरा...

OMG! 70 साल के बुजुर्ग की निकली बारात, 8 बेटा-बेटी समेत पूरा गांव बना बाराती

- Advertisement -

छपरा. देशभर में इस समय शादी-विवाह का मौसम चल रहा है. शादियों की धूम मची हुई है. इस बीच बिहार के छपरा में एक ऐसी शादी हुई है, जिसकी हर तरफ चर्चा हो रही है. जब 70 साल का दूल्‍हा बग्‍घी पर सवार होकर अपनी दुल्‍हन को लाने ससुराल की ओर चले तो हर कोई उन्‍हें देखता रह गया. सात बेट‍ियों और 1 बेटे के साथ पूरा गांव बाराती बना हुआ था. सभी बैंड-बाजा और डीजे की धुन पर थिरक रहे थे. पूरा गांव जश्‍न में डूबा हुआ था. इस अनूठी शादी को देखने के लिए बड़ी तादाद में लोग जुटे थे. बुजुर्ग दंपति भी इससे काफी खुश थे.

जानकारी के अनुसार, छपरा में गुरुवार को एक अनोखी बारात निकली. 70 साल के एक बुजुर्ग की बारात में उसकी 7 बेटियां और एक बेटा के साथ पूरा गांव बाराती बना हुआ था. दरअसल, एकमा के आमदाढ़ी निवासी राजकुमार सिंह की शादी 42 साल पहले 5 मई को ही हुई थी, लेकिन पत्नी का दोंगा (गौना) नहीं हुआ था. दोंगा वह रस्म है जिसमें पत्नी का मायके से अपने पति के घर दूसरी बार जाना होता है. इस रस्म को राजकुमार सिंह और उनके संतानों ने इस कदर यादगार बना दिया, जिसे कोई नहीं भूल सकता है.

ट्रेन्डिंग खबर :   परिवारवालों से लेना था बदला, इसलिए कलयुगी बेटे ने अपने ही घर में डाला डाका, गिरफ्तार

रब ने बना दी जोड़ी: 36 इंच का दूल्‍हा और 34 इंच की दुल्‍हन, पढ़ें अनोखी शादी की अनूठी कहानी 

बुजुर्ग राजकुमार बाकायदा बग्‍घी पर सवार होकर पत्‍नी को लेने ससुराल पहुंचे. (न्‍यूज 18 हिन्‍दी)

42 साल पहले हुई थी शादी
छपरा में एक शख्स शादी के 42 वर्ष पहले हुई थी. अब वह चार दशक से भी ज्‍यादा समय के बाद पत्नी का दोंगा कराने रथ पर सवार होकर निकले. जिले के एकमा थाना के आमदाढ़ी में धूमधाम के साथ 70 साल के बुजुर्ग की बारात निकली तो देखने वाले दांतों तले उंगली दबाने को मजबूर हो गए. दूल्हा बने राजकुमार सिंह ने बताया की 42 साल पूर्व उनकी शादी में मांझी थाने के नचाप गांव से बारात आमदाढ़ी आई थी. शादी के बाद वह कभी अपने ससुराल आमदाढ़ी नहीं गए थे और न कभी दोंगा ही हुआ था. उन्‍होंने बताया कि उनकी बेटियों और बेटा ने मिलकर 42 वर्ष के बाद दोंगा की रस्म को पूरा किया.

ट्रेन्डिंग खबर :   प्रशांत किशोर से क्‍या है चिराग पासवान का नाता? क्‍या दोनों मिलकर बिहार में बनाएंगे नया फ्रंट?

संतान के लिए किया संघर्ष
राजकुमार सिंह अपने गांव में आटा-चक्की चलाते हैं. काफी संघर्ष कर उन्होंने अपनी 7 बेटियों को बिहार पुलिस और सेना में नौकरी दिलाई. साथ ही बेटे को इंजीनियर बनाया. बच्चों की जिद के आगे राजकुमार सिंह को झुकना पड़ा और दूल्हा बनकर बारात के साथ निकल पड़े अपनी पत्नी को दुबारा विदा कर घर लाने के लिए. अपने दूल्हे का यह अंदाज पत्नी को भी काफी पसंद आया. वहीं, बच्चों ने भी राजकुमार सिंह के प्रयासों की सराहना की जिसके बदौलत आज वे इस मुकाम पर हैं. राजकुमार सिंह की दूसरी शादी पूरे इलाके में चर्चा के विषय बनी हुई है.

Tags: Ajab Gajab news, Bihar News, OMG News

न्यूज 18

- Advertisement -
Stay Connected
16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe
Must Read
Related News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here